दोस्तों , आमतौर पर मैं लोगों से अपने बारे में ज्यादा कुछ share नहीं करता लेकिन मुझे लगता ह...
In the last two weeks our therapists have answered 211 queries related to mental health.
Comments

दोस्तों , आमतौर पर मैं लोगों से अपने बारे में ज्यादा कुछ share नहीं करता लेकिन मुझे लगता है, कि बहुत बार हम खुद को बहुत कमजोर समझने लगते हैं| अपनी समस्या का समाधान उन दोस्तों और अपने परिवार के उन लोगों में ढुंडते है, जो कभी तुम्हारी परेशानी को समझने की कोशिश भी नहीं करतें। अगर देखा जाये तो हर किसी को तुमसे कुछ चाहिऐ होता है, इस लिए ही वे तुमसे जुडे रहते हैं। जैसे ही उनका अपना मतलब पुरा होता है तो वे लोग धीरे - धीरे तुमसे दुरी बनाने लगते हैं। और जब परेशानी के वक्त तुमको उनकी जरूरत होती है, तो वो लोग कभी तुम्हारे काम नहीं आते। तो मेरे कहने का मतलब ये है कि कोई तुम्हारे लिए कुछ नहीं करेगा । अपनी मदद खुद ही करनी होती है। खुद को खुश रहना तुम्हारी खुद की जिम्मेदारी है, अपना ख्याल खुद ही रखना होता है। अगर तुमको लगता है कि कोई तुम्हारी मदद करेगा तो तुम एक समय के बाद देखोगे की लोग तुमसे दूर होते जायेगें। यदि हम अपनी मदद खुद ही नहीं कर सकते या अपना ख्याल खुद नहीं रख सकते तो कोई भी व्यक्ति तुम्हारी मदद नहीं कर सकता। देखा जाये तो अब 1 : 50 हो चुके हैं वो भी night के, तो मुझे लगता है की अब मुझे थोड़ा Study करके सोना चाहिए। फिर मिलतेे हैं दोस्तो । हाँ, एक बात ओर, lots of love you guys

  • 2 Answers